कहते हैं कि क्रिकेट जगत में इयान बाथम

कहते हैं कि क्रिकेट जगत में इयान बाथम, रिचर्ड हैडली, इमरान खान और कपिल देव अपने वक्त के ऐसे महान आल राउंडर थे, जिनमें भेद कर पाना मुश्किल था कि कौन ज्यादा बेहतरीन था?

इंग्लैंड के पास थे इयान बाथम… कहते हैं कि उनकी बल्लेबाजी के टाइम ब्रिटिश पब खाली हो जाते थे.. ऐसी मैग्नेटिक पर्सनालिटी कभी देखी न गयी। शतक और दस विकेट जैसा कारनामा उन्होंने किया है.. बेहतरीन बल्लेबाज थे…

न्यूज़ीलैंड के पास रिचर्ड हैडली.. ऐसा गेंदबाज.. कि 36 बार पांच विकेट लेने का रिकॉर्ड उनके नाम है.. यह रिकॉर्ड केवल शेन वार्न और मुरलीधरन द्वारा ही तोड़ा गया है…

किसी तेज गेंदबाज द्वारा तो यह रिकॉर्ड अभी तक नही तोड़ा गया।

पाकिस्तान के पास थे इमरान खान.. पोस्टर बॉय के नाम से मशहूर थे.. गज्जब की खूबसूरती कि लड़कियां फिदा थीं..

इमरान ने पाकिस्तान को एक बेहतरीन चीज दी.. उस कहते हैं क्रिकेट.. इसके लिए समूचे पाकिस्तान को उनका शुक्रगुजार होना चाहिए.. जहां कुछ भी अच्छा न हो, वहां एक चीज के दम पर वो विश्व में अपनी एक पहचान रखने लगा.

Movierulz (1)

नतीजा ये है कि आज पाकिस्तान के पास कुछ भी बेहतरीन है तो उनमें से एक क्रिकेट है..

भारत के पास हरियाणा हरिकेन…

वो जमाना तो हमने देखा था जबचौथी पारी में ऑस्ट्रेलिया को 105 रन चाहिए था तो हमने उसको 93 रन पर allout कर दिया था। कार्तिक ने बेहतरीन गेंदबाजी की थी…

लेकिन उनसे पूँछिये जिन्होंने 81 का वो मैचे सुना है जब ऑस्ट्रेलिया को 83 रन पर allout कर दिया गया था।

अव्वल तो चंद्रयान 3 सच्ची में उतरा भी है कि नहीं इसी पर डाउट होना चाहिए।

कपिलदेव में पेन किलर खाकर गेंदे फेंकी थी और पाँच विकेट लिए थे… इतना दर्द था कि ड्रेसिंग रूम में आकर कपिल गिर पड़े थे..

कपिल देव की क्षमता का अंदाजा ऐसे लगा लीजिए कि उनके शुरुवाती 34 मैचों में विपक्षी टीम के ओपनर शतक नही बना पाए थे।

कपिल से बड़ा जुनूनी, जिद्दी, जुझारू और जिंदादिल allrounder कोई न था.

0Shares

Leave a Comment

0Shares